image

Jain Swetambar Terapanthi Sabha Gangashahar

गंगाशहर तेरापंथी सभा का गठन 27  जनवरी  1956  को हुआ।  प्रथम अध्यक्ष  छोगमल जी चोपड़ा बने जिन्होंने इसका संविधान भी बनाया।  अब श्री जैन श्वेताम्बर तेरापंथी महासभा से भी एफीलेटेड है तथा संविधान भी महासभा के अनुसार परिवर्तित कर लिया गया है।  वर्तमान में अध्यक्ष  श्री अमरचन्द सोनी है।

शान्तिनिकेतन का भवन वर्षों से व्याख्यान आदि के उपयोग में आ रहा था। श्री सुरेन्द्र सिंह चोपड़ा ने साध्वियों के सेवाकेन्द्र के लिए तेरापंथी सभा को भेंट कर दिया जिसको आचार्य श्री महाप्रज्ञ ने साध्वी सेवा केन्द्र  के रूप में विक्रम संवत 2057 को स्थापित कर दिया। सेवा केन्द्र  तेरापंथ के तीर्थ स्थान होते हैं अतः  श्रद्धालुओं  का आवागमन वर्ष भर होता है।

image

President

गंगाशहर  तेरापंथ धर्मसंघ के इतिहास में एक विशिष्ट स्थान रखता है। यहाँ का श्रावक-श्राविका‍ संघ एवं संघपति के प्रति अपनी श्रद्धा एवं समर्पण के लिए पूरे तेरापंथ समाज में एक विशिष्ट  स्थान रखता है। गंगाशहर के समस्त तेरापंथी परिवारों के डाटा संग्रहण एवं उस डाटा को वेबसाइट पर प्रस्तुत करने का कार्य  सम्पन्नता की और है । डाटा संग्रहण एवं वेबसाइट का कार्य पूर्ण हो चुका है, इस कार्य को करते हुए संग्रहित डाटा को निर्देशिका के रूप में प्रकाशित किया जा रहा है। संस्था में निर्देशिका ( डायरेक्टरी ) सबन्धों को बनाये रखने व सम्बन्धित समाज की सूचना उपलब्ध करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। निर्देशिका  भूत , वर्तमान , भविष्य को जोड़ने का कार्य भी करती है।  इसमें समाहित जानकारी सेवा के उद्देश्य को पूरा करने में मदद करती है। पूरे  कस्बे की जानकारी  इकट्ठा  करना आसान कार्य नहीं है।  पिछले कई वर्षों में यह प्रयास किया गया परन्तु  सफलता प्राप्त नहीं हुयी।  इस बार कार्यकर्ताओं के संकल्प व मेहनत ने इसको सफलता के द्वार पर पहुंचा दिया। इसके लिए  संस्था के मंत्री व निर्देशिका के संयोजक रतन लाल छलाणी के प्रति में हार्दिक आभार व धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ। यह निर्देशिका समाज के लोगों को अनेकानेक जानकारी व मार्गदर्शन देगी। इस संकलन से समाज में भाईचारा व विश्वाश बढ़ेगा तथा यह निर्देशिका भविष्य के लिए संभावनाओं के द्वार खोलती है। यह समाज को साथ साथ चलने की प्रेरणा देती है।  गंगाशहर  तेरापंथ समाज निर्देशिका हेतु डाटा संग्रहण के कार्य में  तेरापंथ युवक परिषद्, एवं किशोर  मण्डल का विशेष सहयोग रहा। तेरापंथी सभा गंगाशहर  की ओर से सभी का  हार्दिक आभार प्रकट करता हूँ।

मैं कृतज्ञता ज्ञापित करता हूँ पूज्य आचार्य श्री महाश्रमण जी के प्रति जिनके दिव्य आशीर्वाद से असीम ऊर्जा के फलस्वरूप हम डाटा संग्रहण एवं निर्देशिका प्रकाशन का कार्य पूर्ण कर पाए । निर्देशिका में ज्यादा से ज्यादा आंकड़े जुटाने का प्रयास किया है फिर भी इसके  संकलन में कोई त्रुटि रह गयी हो तो मैं क्षमाप्रार्थी हूँ।
अमरचन्द सोनी 
अध्यक्ष
श्री जैन श्वेताम्बर तेरापंथी सभा गंगाशहर